मुख्य बिंदु

    
  • प्री-अप्रूव्ड लोन –
    • लेंडर द्वारा किसी वैधानिक/कानूनी विवरण में जाए बिना प्रस्तावित किया जाता है
    • सीमित अवधि के लिए मान्य होता है
    • लोन की शर्तों में बदलाव संभव है
  • लाभ इस प्रकार हैं –
    • आपकी प्रापर्टी खोज पर फोकस
    • विक्रेता के साथ प्रभावशाली ढंग से मोल-भाव की प्रेरणा
    • तेज़ लोन प्रोसेसिंग
    

प्री-अप्रूव्ड होम लोन को आपकी इनकम, क्रेडिट योग्यता और फाइनेंशियल पोजीशन के आधार पर दिए जाने वाले लोन का लेंडर द्वारा किसी वैधानिक/कानूनी विवरण में जाए बिना प्रस्तावित किया जाता है. आमतौर से, प्री-अप्रूव्ड लोन प्रापर्टी चुनने से पहले लिए जाते हैं. कुछ लेंडर आपको होम लोन के लिए ऑनलाइन अप्लाई की सुविधा देकर तत्काल ई-अप्रूवल भी दे देते हैं.

Basics of Pre-approved Home Loansप्री-अप्रूव्ड होम लोन में ध्यान देने वाली खास बातें

प्री-अप्रूव्ड होम लोन क्या है?

  • प्री-अप्रूव्ड होम लोन को आपकी रीपेमेंट क्षमता के आधार पर लेंडर द्वारा किसी वैधानिक/कानूनी विवरण में जाए बिना प्रस्तावित किया जाता है.
  • प्री-अप्रूव्ड होम लोन सीमित अवधि के लिए मान्य होता है, आमतौर पर 3 महीने.
  • प्री-अप्रूव्ड लोन में, अंतिम लोन शर्तें डिसबर्समेंट के समय तय की जाती हैं.

लेंडर द्वारा किसी वैधानिक/कानूनी विवरण में जाए बिना प्रस्तावित किया जाता है

प्री-अप्रूव्डहोम लोनआपकी रीपेमेंट क्षमता के आधार पर दिया गया लोन ऑफर है. होम लोन दिया तब जाता है जब प्री-अप्रूव्ड लोन की वैधता अवधि के अंदर आप कोई प्रापर्टी तय कर लेते हैं और वह प्रापर्टी, लेंडर के कानूनी और तकनीकी मानदंडों के अनुरूप होती है. उदाहरण के लिए, अगर प्रापर्टी की हकदारी स्पष्ट न हो, या अगर मालिकाना ढांचा लेंडर के स्वीकृत मानकों के अनुरूप न हो, तो ऐसा हो सकता है कि प्री-अप्रूव्ड लोन ऑफर करने के बावजूद लेंडर आपको होम लोन न दे.

वैधता अवधि

प्री-अप्रूव्ड लोन ऑफर सीमित अवधि के लिए मान्य होता है (आमतौर पर तीन महीने). आपको वैधता अवधि के भीतर प्रॉपर्टी को फाइनल करना होगा, वरना आपको लेंडर को अपने लेटेस्ट इनकम डॉक्यूमेंट प्रदान करके, एक मामूली शुल्क पर अपनी लोन एप्लीकेशन का पुनर्मूल्यांकन करवाना होगा.

लोन की शर्तें

ऑफर में दी लोन शर्तें (ब्याज दर, EMI और अवधि) बाद में बदल सकती हैं. फाइनल लोन शर्तों को डिसबर्सल के समय तय किया जाता है. उदाहरण के लिए, आपके द्वारा प्रापर्टी का चुनाव किए तक ब्याज दर बदल सकती हैं. अत: उसी अनुसार आपके लोन की शर्तें भी बदल सकती हैं:

शर्तें मंजूरी के समय (जनवरी 2021) डिस्बर्समेंट के समय (मार्च 2021)
लोन की राशि ₹10 लाख ₹10 लाख
ब्याज दर 6.80% प्रति वर्ष 6.70% प्रति वर्ष
लोन की अवधि 30 वर्ष 30 वर्ष
EMI रु. 6520 रु. 6453
Basics of Pre-approved Home Loans

Basics of Pre-approved Home Loansप्री-अप्रूव्ड होम लोन के मुख्य फायदे इस प्रकार हैं

प्री-अप्रूव्ड होम लोन के मुख्य फायदे

  • आप अपनी प्रापर्टी खोज पर फोकस कर सकते हैं
  • सेलर्स से आपको बेहतर नेगोशिएशन पावर मिलती है
  • अच्छी प्रापर्टी डील आपके हाथ से नहीं जाएगी

प्रापर्टी की प्रभावी खोज

आपके फाइनेंस की स्थिति स्पष्ट हो जाने पर- आपकी होम लोन पात्रता और वह अमाउंट जो आप अपने स्रोतों से जुटा सकते हैं, दोनों से आप अपने घर की खरीद का बजट बना पाएंगे. फिर आप बेकार की डील्स में समय और मेहनत बर्बाद किए बिना सस्ती प्रॉपर्टी पर अपना ध्यान लगा सकते हैं.

विक्रेता के साथ मोलभाव

प्री-अप्रूव्ड लोन ऑफर से, आपको डेवलपर या प्रॉपर्टी विक्रेता से मोलभाव करने की बेहतर क्षमता मिलती है. आपको गंभीर खरीदार माना जाता है और अन्य खरीदारों की तुलना में जल्दी पेमेंट करने की आपकी क्षमता के कारण डेवलपर्स या विक्रेता आपके साथ बेहतर व्यवहार कर सकते हैं और आपको आकर्षक छूट भी दे सकते हैं.

तेज़ प्रोसेसिंग

Generally, during the pre-approval stage, only your income documents are evaluated. While prior to loan disbursal, property documents are verified by the lender. As lenders finish the credit appraisal in advance, the turnaround time on the entire loan process (from loan approval to disbursement) is reduced. Quick processing of the loan facilitates easy purchase of property. You do not have to miss out on a good property deal or worry about increase in prices.

Basics of Pre-approved Home Loansकई इन्क्वायरियों पर रोक

While a pre-approved loan is a good option in most cases, it is preferable to make an application only when you are sure that you want to purchase a home. It’s also preferable to do a bit of research and then make an application with just one or two lenders. Multiple enquiries without approvals may have an adverse impact on your credit score, as the lenders may think that you are not serious about the loan.

Basics of Pre-approved Home Loansनिष्कर्ष

In a pre-approved home loan, the lender provides a loan sanction letter stating that you would in-principal be able to avail of a loan up to a certain amount subject to meeting certain terms and conditions. This would not only help you to stay focused on your property search but also give you the essential funding power required for negotiating a favourable deal. As the demand for housing increases, good property options will be limited. In such conditions, you can book your dream home with relative ease by taking a pre-approved home loan.

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.