मुख्य बिंदु

    
  • कोई सगा परिजन (वेतनभोगी या स्व-व्यवसायी, भारतीय या NRI) को-एप्लीकेंट हो सकता है.
  • आपके होम लोन का को-एप्लीकेंट होने से इन चीजों में मदद मिलती है –
    • आपकी लोन पात्रता बढ़ाना
    • ज्यादा बड़ा घर खरीदना
    • अपनी पसंदीदा जगह पर घर लेना
    • अधिक टैक्स लाभ पाना
    • शेयर लोन का री-पेमेंट
  • आवश्यक नहीं कि को-एप्लीकेंट, प्रॉपर्टी का पार्ट ओनर (आंशिक स्वामी) हो
  • महिला को-ओनर को कम दरों का लाभ मिलता है
    

हम में से बहुत से लोगों के लिए घर, ‘जिंदगी में केवल एक बार’ किया जाने वाला निवेश होता है. तो यह स्वाभाविक है कि हम इसे जहां तक संभव हो ज्यादा से ज्यादा बड़ा और बेहतर बनाना चाहेंगे. हमारे खरीदने की क्षमता ही हमारे घर का आकार, स्थान, और क्वालिटी तय करती हैं. बेशक, होम लोन मिलने की संभावना ने हमारी खरीदने की क्षमता बढ़ाई है. हालांकि, आपके होम लोन पात्रता की आपके उम्र, इनकम के स्तर, अन्य लोन जो आप अभी भी चुका रहे हैं, आदि पर निर्भर करती है. लेंडर के ऐसे विवेकपूर्ण मानदंड होते हैं जो यह निर्धारित करते हैं कि, आपके होम लोन की EMI और वर्तमान में आप जो भी अन्य EMI आप चुका रहे हैं उन्हें मिलाकर आपके कटौतियों के बाद मिलने वाली सेलरी के एक निश्चित अंश से अधिक न हो.

Benefits of taking a joint home loanअपनी होम लोन पात्रता बेहतर बनाना

अपने होम लोन पात्रता

Benefits of taking a joint home loanको-एप्लीकेंट कौन हो सकता है?

सामान्यतः कोई सगा परिजन आपका को-एप्लीकेंट हो सकता है को-एप्लीकेंट वेतनभोगी या स्व-व्यवसायी हो सकता है; अप्रवासी भारतीय यानि NRI भी को-एप्लीकेंट हो सकते हैं.

Benefits of taking a joint home loanको-एप्लीकेंट बनाम को-ओनर

यहां को-ओनर और को-एप्लीकेंट का अंतर साफ कर देना आवश्यक है. को-ओनर, प्रॉपर्टी का जॉइंट ओनर होता है, जबकि यह जरूरी नहीं कि को-एप्लीकेंट, प्रॉपर्टी का पार्ट ओनर (आंशिक स्वामी) हो ही. बुनियादी सिद्धांत यह है कि प्रॉपर्टी के सभी को-ओनर को होम लोन का को-एप्लीकेंट बनना होगा. हालांकि, यह जरूरी नहीं कि सभी को-एप्लीकेंट, को-ओनर भी हों. केवल उनकी इनकम को क्रेडिट / लोन मूल्यांकन में शामिल किया जाता है.

Benefits of taking a joint home loanजॉइंट होम लोन लेने के मुख्य लाभ

जॉइंट होमलोन लेने के मुख्य लाभ

  • अधिक लोन पात्रता
  • अधिक टैक्स लाभ
  • महिला को-ओनर के लिए विशेष ब्याज दरें

जॉइंट होम लोनलेने के दो महत्वपूर्ण लाभ होते हैं. वे हैं:

अधिक लोन पात्रता:

जॉइंट होम लोन एप्लीकेशन देते समय अपनी इनकम मिलाकर एप्लीकेंट कहीं अधिक लोन राशि के पात्र हो जाते हैं और इसलिए वे एक अधिक बड़ा / बेहतर घर खरीद सकते हैं.

अधिक टैक्स लाभ:

होम लोन के लिए जॉइन्ट रूप में अप्लाई करके, होम लोन पर उपलब्ध टैक्स कटौतियों का आनंद सभी को-एप्लीकेंट द्वारा अलग-अलग लिया जा सकता है बशर्ते वे प्रॉपर्टी के को-ओनर हों और उनमें से प्रत्येक व्यक्ति, होम लोन के रीपेमेंट में योगदान करता हो. a) मूलधन के रीपेमेंट इनकम टैक्स एक्ट के अनुभाग 80C के तहत ₹1.50 लाख की अधिकतम सीमा तक कटौती के पात्र होते हैं. b) होम लोन के ब्याज भुगतानों पर अनुभाग 24 के तहत ₹ 2लाख तक टैक्स कटौती मिलती है बशर्ते ओनर, प्रॉपर्टी में खुद रह रहे हों; यदि प्रॉपर्टी किराए पर दी गई है, तो संपूर्ण ब्याज टैक्स कटौती की पात्र हो जाती है, यानि उसकी कोई अधिकतम सीमा नहीं है. जॉइंट होम लोन में चूंकि प्रत्येक को-एप्लीकेंट उपर्युक्त कटौतियों के लिए अलग-अलग पात्र होता है, अतः कुल टैक्स लाभ, सिंगल एप्लीकेंट लोन की तुलना में कहीं अधिक होते हैं. प्रत्येक को-एप्लीकेंट को मिलने वाले टैक्स लाभ की वास्तविक राशि, मूलधन और ब्याज के रीपेमेंट में उसके योगदान के अनुपात में होती है, और वह ऊपर बताई गई लिमिट के अधीन होती है. अतः को-एप्लीकेंट यह योजना बना सकते हैं कि वे कितना टैक्स लाभ पाना चाहते हैं, और इसके आधार पर वे यह तय कर सकते हैं कि उनमें से प्रत्येक व्यक्ति लोन का कितना अंश चुकाएगा.

महिला को-ओनर के लिए विशेष ब्याज दरें:

कुछ लेंडर महिला कस्टमर को अलग होम लोन ब्याज दर ऑफर करते हैं, जो आमतौर पर सामान्य होम लोन दर से कुछ बेसिस पॉइंट कम होती है. ब्याज दर पर छूट का लाभ लेने के लिए, किसी महिला का प्रॉपर्टी का एकमात्र या जॉइंट ओनर होना तथा होम लोन का एप्लीकेंट या को-एप्लीकेंट होना आवश्यक है.

Benefits of taking a joint home loan

Benefits of taking a joint home loanकैविएट

अधिकांश मामलों में जॉइंट होम लोन लेना लाभदायक होता है, पर नीचे कुछ स्थितियां बताई जा रही हैं जिनमें आपको जॉइंट होम लोन के लिए अप्लाई करने से बचना चाहिए:

  • सिंगल एप्लीकेंट के तौर पर आपकी पात्रता, आपकी लोन आवश्यकता को पूरा करती है.
  • खराब क्रेडिट इतिहास के कारण आपकी क्रेडिट रेटिंग कम है.
  • आप किसी जारी लोन, जो आपकी अधिकतम लोन पात्रता के अनुसार लिया गया था, को चुका रहे हैं.
  • इस समय आप एक कम कीमत वाली प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं (शायद निवेश के लिए) और बाद में खुद के रहने के लिए कोई बड़ी प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं.
  • आप जल्द ही रिटायर होने वाले हैं.

Benefits of taking a joint home loanरीपेमेंट की जिम्मेदारी

होम लोन का रीपेमेंट सभी को-एप्लीकेंट की सामूहिक और व्यक्तिगत जिम्मेदारी होती है. एप्लीकेंट द्वारा चुने गए किसी भी तरीके से लोन का भुगतान किया जा सकता है; वे EMI का भुगतान अलग-अलग कर सकते हैं या किसी जॉइंट बैंक अकाउंट के जरिए ऐसा कर सकते हैं.

Benefits of taking a joint home loanडॉक्यूमेंटेशन

Proper home loan documents such as your KYC (proof of identity and address), income and property documents are essential to avail the loan quickly and smoothly. It is on the basis of these documents that lenders process your home loan application. All co-applicants’ KYC documents need to be submitted to the lender while income proof of only those co-applicants whose income is to be considered for loan appraisal need to be submitted.

Moving To a New House Consider the Taxation Angleनिष्कर्ष

जॉइंट होम लोन लेना न केवल बेहतर घर खरीदने के लिए बल्कि टैक्स लाभ में बढ़ोत्तरी की बदौलत घर की संपूर्ण लागत घटाने में भी लाभदायक है. साथ ही, लोन चुकाने की जिम्मेदारी बंट जाने से भी लोन रीपेमेंट का बोझ घट जाता है.

टिप्पणी

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.