पूरी भव्यता से खिलने वाले फूलों और चमकदार पत्तियों वाले आकर्षक कमल उगाना भी आपके छोटे से बगीचे में अनूठा आकर्षण बढ़ा सकता हैं.

एक भरपूर खूबसूरत बगीचे के लिए इन गर्मियों में आपके लिए सबसे अच्छा उपाय: जुलाई से सितंबर तक खिलने वाले कमल. यहां, हम आपको घर में उगाने लायक सभी किस्मों के बारे में बताएंगे, और यह भी कि आप उन्हें कंटेनरों में भी कैसे उगा सकते हैं.

cultivate lotus

किस्में जानें

कमल की दो प्रजातियां हैं: नेलुम्बो लुटिया और नेलुम्बो न्यूसीफेरा. पहले वाले को आमतौर पर अमेरिकी कमल के रूप में जाना जाता है. इसमें नाजुक फूल होते हैं, जो प्रत्येक पर 20 पंखुड़ियों के साथ सफेद से हल्के पीले रंग वाले होते हैं; जबकि इसका तना पानी के ऊपर साढ़े तीन फीट लंबा होता है. दूसरी ओर, नेलुम्बो न्यूसीफेरा, जिसे भारतीय कमल भी कहा जाता है, में गुलाबी और सफेद फूल होते हैं, जिसका व्यास 13 इंच होता है. एंजेल विंग्स भी कहलाने वाले इसमें गोल मोमी पत्ते और सुगंधित फूल होते हैं. इन किस्मों के अलावा, नीला कमल भी है, जो केवल रात में खिलता है.

उगाने की कला

कमल की सभी किस्मों को पनपने के लिए पानी के साथ गर्मी और धूप की भी ज़रूरत होती है. वे बगीचों को एक अलग रूप देते हैं, और उन्हें उगाने के लिए आपके पास बहुत बड़ा लॉन होना ज़रूरी नहीं है - वे छोटे तालाबों और कंटेनरों में भी अच्छी तरह उगते हैं. हालांकि, बहते पानी में कभी भी कमल न उगाएं, जिसका अर्थ है कि आपके कमल वाले तालाब में फव्वारा नहीं होना चाहिए. बहते पानी में कमल का राइजोम या ट्‌यूबर लुढ़कने लगता है, जिससे इसकी जड़ ढीली हो जाती है.

cultivate lotus
cultivate lotus

कमल के कंटेनर

कंटेनर में कमल उगाने के लिए, सबसे पहले सही प्रकार के पौधे की पहचान करें. कमल को ऐसे गमले चाहिए जो कम से कम दो-फीट गहरे हों, और जिनका व्यास 15 से 18 इंच हो. इसके अलावा, कमल की संकर किस्म (हाइब्रिड वैराइटी) चुनें, क्योंकि वे कंटेनरों में काफी आसानी से अनुकूल हो जाते हैं और खुद को वैसा ही आकार दे देते हैं. इसके बाद, अपने गमले को क्ले और साधारण मिट्टी के मिश्रण से भरें. बीच में कमल राइजोम/ट्‌यूबर सेट करें, उनकी 'आंखें'- छोटी-छोटी ओपनिंग, जिनमें से पत्तियां उगती हैं- ऊपर की ओर हों. इसे थोड़ी मिट्टी से ढंकें, आंखें खुली रखें. राइजोम/ट्‌यूबर को उसकी जगह पर बनाए रखने के लिए ऊपर से बजरी की एक परत बिछाएं. फिर, गमले की किनारी तक पर्याप्‍त पानी भरें. (ध्यान रखें कि आपके गमले में पानी का लेवल कभी कम नहीं होना चाहिए). तीन हफ्तों के भीतर, कमल की लंबी, नुकीली कली चमकदार पत्तियों के साथ गमले से ऊपर निकल आएगी. एक बार पंखुड़ियों के खुलने के बाद चार से पांच दिनों तक आकर्षक फूल खिल जाएंगे.

तथ्य फ़ाइल

यहां कमल के पौधे के बारे में छह खास बातें दी गई हैं

  • कमल के फूल, बीज, और जड़ें सभी खाने योग्य होते हैं.
  • कोरिया में, इसकी पत्तियों और पंखुड़ियों का उपयोग हर्बल चाय में किया जाता है.
  • भगवान बुद्ध के लिए विशेष वस्त्र बुनने के लिए कमल के पौधों के रेशों का उपयोग किया गया था.
  • चीन में, अनुष्ठान कार्यक्रमों में कमल का पाउडर जलाया जाता है.
  • कमल, प्राचीन चीनी ग्रंथों में शुद्धता और लालित्य का प्रतीक है. विद्वान झोउ दुन्यी की एक चीनी कहावत इस प्रकार है: "मैं कमल से प्यार करता हूं क्योंकि कीचड़ से उगते समय, यह अस्थिर होता है."
  • भगवद्गीता में भी कमल का उल्लेख किया गया है: "जो अपने कर्तव्य को मोह-माया के बिना करता है, वह अपने कर्म परमपिता परमात्मा के प्रति समर्पण करता है, पापों से अप्रभावित रहता है जिस तरह कमल कीचड़ से अछूता रहता है."

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.