इस लेख में हम पौधों को एक दूसरे के संयोजन में उगाने और बढ़ाने की सालों पुरानी कला के बारे में जानेंगे - हम देखेंगे कि कौनसा पौधा किस पौधे के साथ उगाया जाना चाहिए, जिससे कि उसकी बेहतर तरीके से वृद्धि हो सके.

व्यावहारिकता से एक गमले में एक पौधे को उगाने पर जोर दिया जाता है हालांकि, यह व्यवस्थित और साफ-सुथरा लग सकता है, लेकिन यह मृदा के लिए लाभप्रद नहीं होता है. पौधों को संयोजन में उगाना ही बेहतर रहता है. संयोजन रोपण या कंपेनियन प्लांटिंग के बारे में विस्तार से जानने से पहले, प्रकृति के सबसे उपजाऊ इकोसिस्टम, वनों के बारे में जानना जरूरी है. वनों का इकोसिस्टम, मानव सहित विभिन्न जीव-जंतुओं को आश्रय और भोजन प्रदान करते हुए, जीवन को संचालित करता है. हर जीवित जीव-जन्तु - चाहे वह पादप हो, कीट हो, पशु हो, घास हो, जीवाणु हो, कवक हो या और कोई जीव हो, एक दूसरे को लाभ पहुंचाने वाली सहजीविता में रहते हैं. एक जीव की मृत्यु दूसरे को भोजन प्रदान करती है, एक पौधा दूसरे को जीवन प्रदान करने में मददगार हो सकता है.

जंगलों से चुराए आइ​डिया

पादपों के विभिन्न कुलों और गणों को मृदा से अलग-अलग पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, इसके लिए इनमें आपसी प्रतिस्पर्धा होना आवश्यक नहीं है. वास्तव में, य कीट नियंत्रण और परागण के द्वारा - तथा जगह का सही उपयोग कर - व उत्पादन बढ़ाकर - एक दूसरे की (और हमारी) मदद करते हैं. हालांकि कुछ पौधे विकास के अनुक्रम में अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करने के लिए एक दूसरे से प्रतिस्पर्धा करते हैं.

Garden Companions
    
संयोजी पौधारोपण का मूल नियम यह है कि एक ही कुल के पौधों को कभी भी एक साथ न उगाया जाए.
    

पादपों के कुल

एक साथ उग सकने वाले पौधों के संयोजन का पता लगाने के लिए हमें बस इस बारे में रुचि होने और पादप कुलों के बारे में कुछ सामान्य जानकारियां होने की आवश्यकता होती है. यहां विभिन्न पादप कुलों की सूची दी गई है:

1. सोलीनेसी या नाइटशेड्स

इस कुल के सबसे आम खाने योग्य पौधे टमाटर, बैंगन, मिर्च, शिमला मिर्च, आलू और भिंडी हैं

2. लौकी

ये गर्म मौसम में उगने वाली सब्जियां जमीन पर बढ़ती है या ट्रेलीज के सहारे उपर चढ़ती है. इनके घरेलू नाम, बॉटल गार्ड, ककड़ी, रिज़ गार्ड या तुरई, एपल गार्ड या टिंडा इत्यादि है.

3. एलियम

इस कुल में प्याज और संबंधित पौधे जैसे कि लहसुन, प्याजी और लीक्स इत्यादि शामिल होते हैं.

4. फलियां या फैबिकेसी

इन पौधों से खाने योग्य फलियां प्राप्त होती हैं, जिनमें फ्रेंच बीन्स, मटर, काली आंख वाली मटर, मेथी और चौड़ी फलियां शामिल हैं.

5. ब्रेसिकेसी

इस गोभी कुल में, सलाद, पत्तागोभी, फूलगोभी, सरसों इत्यादि आते हैं. इन पौधों का तना पौधे के केन्द्र से निकलता है और इनमें पीले फूल आते हैं.

अच्छे पड़ोसी

यहां हमने उन पौधों की सूची बनाई है, जिन्हें आप एक साथ उगा सकते हैं:

ककड़ी और मकई

ककड़ी का पौधा जमीन पर या किसी ग्रिल के सहारे उपर की ओर बढ़ता है जबकि मकई का पौधा उपर की ओर वृद्धि करता है.

मकई और फलियां

फलियों के पौधे मक्का के लिए लाभकारी कीटों को आकर्षित करते हैं, जो मक्का को नुकसान पहुंचाने वाले कीटों, जैसे कि लीफहूपर्स और लीफबीटल्स का शिकार करते हैं. इसके अलावा फलियां, मकई के तने पर बेल के रूप में वृद्धि करती है.

अम्लान और बैंगन

जितने समय में बैंगन का पौधा परिपक्व होता है और फल देना शुरू करता है, उतने समय में अम्लान को कई बार काटा जा सकता है.

हल्दी और मकई

मकई के तने से बनी छांव में हल्दी का पौधा आसानी से पनप जाता है.

गोभी और सोआ

सोआ का पौधा कीटों को आकर्षित करता है, जो गोभी को नुकसान पहुंचाने वाले कीटों को नियंत्रित करते हैं.

मूली और पालक

मूली और पालक को एक साथ उगाने से लीफ माइनर नामक कीट से बचाव हो सकता है.

धनिया और टमाटर

धनिया, टमाटर को प्रभावित करने वाले कीटों को दूर रखता है और इसका पोषण बनाए रखता है.

समय और स्थान का प्रबंधन करें

संयोजी पौधों को उगाने के संबंध में सबसे महत्वपूर्ण नियम यह है कि कभी भी एक परिवार या कुल के पौधों को एक साथ नहीं उगाना चाहिए. इसके अलावा यह पता करें कि हर पौधे को उगने और पनपने में कितना समय लगता है और उन्हें इसके लिए कितनी जगह की आवश्यकता होती है.

समय

हर प्रकार के पौधे को बढ़ने और पनपने में अलग-अलग समय लगता है. कुछ पौधे एक हफ्ते में ही फूट जाते हैं और आकार ले लेते हैं, जबकि कुछ को इस काम में महीनों का समय लग जाता है. जब आप संयोजन का चुनाव करते हैं, तो आपको ध्यान रखना चाहिए कि कहीं आप तेजी से बढ़ने वाले और धीमी वृद्धि वाले पौधों को एक साथ न रख लें.

स्पेस

हर पौधा अपने आस-पास जगह घेरने के मामले में अलग और विविध होता है. कुछ पौधे पहले उपर की ओर बढ़ते हैं और फिर पार्श्वों में फैलते हैं, कुछ को उपर की ओर जाने के लिए सहारे की जरूरत पड़ती है, कुछ जमीन के नीचे पनपते हैं, जबकि कुछ जमीन के उपर सर्पिलाकार तरीके से बढ़ते हैं. इसलिए, पौधों का चुनाव इस प्रकार से करें कि वे एक दूसरे की जगह में घुसपैठ न करें और उनमें सूर्य के प्रकाश और अन्य आवश्यकताओं के लिए कोई प्रतिस्पर्धा न हो.

Garden Companions

एक बार आपको विभिन्न पौधों द्वारा घेरे जाने वाले स्थान और उन्हें पनपने में लगने वाले समय का अंदाजा हो जाता है, तो आप आसानी से संयोजन का चुनाव कर सकते हैं. उदाहरण के लिए आप सलाद पत्ता और टमाटर को एक साथ उगा सकते हैं. सलाद पत्ता ब्रेसिका कुल से संबंध रखता है और टमाटर नाइटशेड है; इसका अर्थ यह है कि इन दोनों में पोषक तत्वों के लिए आपस में प्रतिस्पर्धा नहीं होगी. वे विभिन्न रूट ज़ोन का उपयोग करते हैं; सलाद के पौधे की जड़े उथली होती है, जबकि टमाटर में अपेक्षाकृत गहरी जड़ पाई जाती है. सलाद का पौधा जमीन के उपर बढ़ता है, और इसकी पौध को एक दूसरे के करीब लगाया जा सकता है, जबकि टमाटर का पौधा अपेक्षाकृत उंचाई पर बढ़ता है’. एक बार पूरी तरह से विकसित हो जाने के बाद, टमाटर के पौधे से छन कर आ रही हल्की धूप सलाद के लिए काफी फायदेमंद होती है’. सलाद तेजी से बढ़ता है इसलिए यह 60 से 90 दिनों में कटाई के लिए तैयार हो जाएगा, जबकि टमाटर अपेक्षाकृत धीमे बढ़ता है इसलिए यह इस समय तक बस परिपक्व हुआ ही होगा, और फल देना शुरू कर देगा, यह अगले 90 दिनों तक फल देता रहेगा.

पारंपरिक पौधारोपण

पिछले साल, देहरादून की यात्रा के दौरान, मैंने एक बहुत ही शानदार और पारंपरिक पादप संयोजन के बारे में जाना. छह पौधे- अदरक, हल्दी, मिर्च, पिजन-पी, कोलोकेसिया, और मकई - एक ही स्थान पर एक साथ लगाए गए थे. यह पौधे न केवल विभिन्न कुलों से संबंध रखते थे, बल्कि ये जगह का भी सही प्रबंधन करते थे, और इनकी कटाई भी कुछ महीनों के दौरान अलग-अलग समय पर होती थी. इससे पूरे साल हर समय कोई ना कोई उत्पाद प्राप्त होता रहता था. अदरक, हल्दी और कोलोकेसिया, धीमी गति से बढ़ने वाले और जमीन के नीचे पनपने वाले कंद है, जबकि मकई, पिजन पी और मिर्च, जमीन के उपर, उर्ध्व दिशा में और तेज गति से बढ़ने वाले पौधे हैं. इनमें से हर पौधा अलग-अलग कुल से संबंध रखता है: मिर्च एक नाइटशेड पौधा है, मकई एक प्रकार की घास है, जबकि पिजन पी लेग्यूम या फली समूह से संबंध रखती है.

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.