हर बूंद कीमती है

रेनवाटर हार्वेस्टिंग पानी बचाने और हमारे ग्रह पर जीवन को बरकरार रखने में उपयोगी सिद्ध हो सकती है. आईए जानते हैं कैसे

Rainwater harvesting

1.मूल बातें

रेनवाटर हार्वेस्टिंग (RWH) का अर्थ है बरसात के पानी का बाद में उपयोग के लिए संग्रहण करना. इसके लिए आपको कुछ आसान चरणों का पालन करना होता है और अपने घर में RWH संरचना स्थापित करवानी होती है. गुड़गांव स्थित कंपनी वाटर सॉल्यूशन्स के श्री बलदेव चुघ बताते हैं, "सबसे पहले आपको अपने इलाके के सेंट्रल वाटर बॉर्ड ऑफिस जाना होगा और इस क्षेत्र में काम कर रहे किसी व्यक्ति से संपर्क करना होगा." वह आगे कहते हैं , "इसके बाद आपको किसी आर्किटेक्ट की मदद लेनी होगी. साथ ही फिर बाकी का काम करने के लिए किसी अच्छी ड्रिलिंग एजेंसी की सेवाएं लेनी होंगी".

2.चुनौतियां

अक्सर बहुत से लोग ठीक से काम करने वाली संरचना की स्थापना क्यों नहीं कर पाते? बलदेव बताते हैं कि "इसका मुख्य कारण यह है कि जल भराव के लिए बनाई गई संरचना का डिज़ाइन गलत होता है." बलदेव समझाते हैं कि, "अक्सर, इस प्रकार के डिजाइनों का निर्माण उन एजेंसीओं या लोगों द्वारा किया जाता है, जिन्हें उस इलाके के जलीय भूगर्भ विज्ञान या हाइड्रोजियोलॉजी की सही जानकारी नहीं होती. इस प्रकार से बने डिजाइन को बनाते समय एक्वीफर बिहेवियरल पैटर्न और हाइड्रोजियोलॉजिकल विशेषताओं का ध्यान नहीं रखा जाता. इसके अलावा, बरसात से पहले जलभराव के लिए बनाए गए कुओं की सफाई ना करना और इनकी सही देखभाल ना होना भी इन संरचनाओं की असफलता का कारण बनती है. इस कारण से पिछले साल की बरसात के अवक्षेप कुएं में जमे रह जाते हैं और सही जल संग्रहण नहीं हो पाता".

3.महत्वपूर्ण तथ्य

“बलदेव बताते हैं कि, "सरंचना के निर्माण की लागत क्षेत्र की लोकेशन और आकार पर निर्भर करती है. गुड़गांव शहर में एक 4500 sq ft के बंगले में 2 x 1 x 2 मीटर के आयाम की और 80 मीटर गहरे कुंए वाली एक RWH संरचना बनाने में लगभग ₹ 75,000 का खर्चा आता है." इसके अलावा आपके प्रोजेक्ट के सफल होने की संभावनाओं पर मौसम का भी असर पड़ता है! तो, ध्यान दें: वह बताते हैं, “रीचार्ज संरचना बनाने का सबसे सही मौसम मानसून के बाद का समय होता है. इस समय का उपयुक्त मौसम और नम मृदा जमीन की खुदाई को आसान बना देती है." और हां, जहां चाह वहां राह!

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.