मुख्य बिंदु

    
  • घर के लिए ज़्यादा कैपिटल की ज़रूरत होती है.
  • घर के खरीद मूल्य के बराबर पूंजी इकट्ठी करने के लिए होम लोन लेना एक बेहतर विकल्प होता है.
  • आपके द्वारा होम लोन की रीपेमेंट सामान मासिक किश्तों यानि EMI के माध्यम से की जाती है.
  • प्रत्येक EMI में आपके लोन पर देय ब्याज और मूलधन के आंशिक रीपेमेंट का भाग शामिल होता है.
  • 20 या 30 वर्ष की उम्र में होम लोन लेने से आपके पास रिटायरमेंट से पहले उसका रीपेमेंट करने के लिए पर्याप्त समय होता है.
  • आपका EMI भुगतान का तरीका आपके कैश फ्लो में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.
  • सुनिश्चित करें कि आपके पास इमरजेंसी फंड हो, ताकि किसी तरह की कोई मुश्किल स्थिति आने पर आपकी EMI का भुगतान प्रभावित न हो.
  • हमारा सुझाव है कि आप अपनी महीने की इनकम का अधिकतम 40% ही लोन की रीपेमेंट के रूप में दें.
    

अधिकांश लोगों के लिए घर का मालिक बनना सबसे अच्छे अनुभवों में से एक होता है. चूंकि इसके लिए ज़्यादा पूंजी की ज़रूरत होती है, इसलिए घर के खरीद मूल्य के बराबर पूंजी इकट्ठी करने के लिए होम लोन लेना एक बेहतर विकल्प होता है, इससे आपको घर खरीदने के लिए आवश्यक बड़ी राशि को इकट्ठा करने के लिए वर्षों तक इंतज़ार नहीं करना पड़ता है, होम लोन आकर्षक टैक्स लाभ भी प्रदान करता है.

अब जब आप होम लोन के लाभ जान चुके हैं, आप पूछ सकते हैं कि होम लोन का रीपेमेंट कैसे करें. होम लोन के रीपेमेंट की प्रक्रिया क्या होती है? होम लोन का रीपेमेंट करने के कई विकल्प हैं, जिन्हें आप चुन सकते हैं. हालांकि इस बारे में चर्चा करने से पहले यह समझते हैं कि होम लोन का रीपेमेंट कैसे होता है. आपके द्वारा होम लोन की रीपेमेंट सामान मासिक किश्तों यानि EMI के माध्यम से की जाती है. यह वह निश्चित राशि होती है जिसका भुगतान आपको अपने होम लोन का पूरा रीपेमेंट होने तक हर माह अपने लेंडर को करना होता है. EMI का भुगतान प्रत्येक माह की निश्चित तिथि को ही होता है (उदाहरण के लिए प्रत्येक माह की 3 तारीख). लोन की पूरी राशि चुकता होने तक आपको लोन की पूरी अवधि तक EMI का भुगतान करना होगा.

प्रत्येक EMI आपके लोन पर लगने वाले ब्याज और मूलधन के कुछ अंश से मिलकर बनी होती है. हालांकि लोन की पूरी अवधि में EMI की राशि निश्चित होती है, शुरुआती वर्षों में EMI में ब्याज का भाग अधिक होता है (और लोन के रीपेमेंट का भाग कम). जब आपके होम लोन की रीपेमेंट पूरी होने के करीब होती है, तो यह स्थिति उल्टी हो जाती है, यानी आपकी EMI में मूलधन रीपेमेंट का भाग अधिक और ब्याज का भाग कम हो जाता है.

constructions

EMI की गणना और ब्याज व मूलधन का विवरण समझने के लिए उदाहरण इस प्रकार है (जिसमें, ब्याज समय के साथ कम होता है, जबकि मूलधन रीपेमेंट बढ़ता रहता है):

मान लेते हैं कि आपने ₹25 लाख का लोन 8.6% की ब्याज दर पर 20 वर्षों के लिए लिया है. तो आपकी EMI होगी ₹21,854. 20 वर्ष की लोन अवधि के लिए आपकी EMI का​ विवरण इस प्रकार है.

वर्ष प्रारंभिक बैलेंस EMI*12 वार्षिक ब्याज वार्षिक मूलधन बकाया राशि
1 2,500,000 262,249 213,092 49,156 2,450,844
2 2,450,844 262,249 208,694 53,555 2,397,289
3 2,397,289 262,249 203,903 58,346 2,338,943
4 2,338,943 262,249 198,682 63,567 2,275,376
5 2,275,376 262,249 192,995 69,254 2,206,122
6 2,206,122 262,249 186,799 75,450 2,130,672
7 2,130,672 262,249 180,048 82,201 2,048,471
8 2,048,471 262,249 172,693 89,556 1,958,915
9 1,958,915 262,249 164,680 97,568 1,861,347
10 1,861,347 262,249 155,951 106,298 1,755,049
11 1,755,049 262,249 146,440 115,809 1,639,240
12 1,639,240 262,249 136,078 126,170 1,513,069
13 1,513,069 262,249 124,790 137,459 1,375,610
14 1,375,610 262,249 112,491 149,758 1,225,852
15 1,225,852 262,249 99,092 163,157 1,062,695
16 1,062,695 262,249 84,494 177,755 884,940
17 884,940 262,249 68,590 193,659 691,280
18 691,280 262,249 51,262 210,986 480,294
19 480,294 262,249 32,385 229,864 250,430
20 250,430 262,249 11,819 250,430 0

चलिए अब आपके होम लोन के रीपेमेंट विकल्पों को समझते हैं.

Eligibilityजितना जल्दी उतना बेहतर

20 या 30 वर्ष की उम्र में होम लोन लेने से आपके पास रिटायरमेंट से पहले उसका रीपेमेंट करने के लिए पर्याप्त समय होता है. इसके अलावा, आपके पास लोन का भुगतान करने के लिए लंबी अवधि का विकल्प होता है, जिसका मतलब लोन की उसी राशि के लिए कम EMI.

Example of subventionअपनी EMI का भुगतान समय से करें

आपका EMI भुगतान का तरीका आपके कैश फ्लो में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. अगर आप कहीं कार्यरत हैं तो आपकी EMI आपकी सैलरी की दिनांक के आसपास हो. अगर आप स्व-व्यवसायी हैं, तो इस बात का ध्यान रखें कि आपके बैंक अकाउंट में EMI के भुगतान के लिए पर्याप्त राशि हो. अपनी EMI का समय से भुगतान करने से आप देर से भुगतान करने पर लगने वाले शुल्कों से बच सकते हैं और अपने क्रेडिट स्कोर को सुरक्षित रख सकते हैं.

Example of subventionइमरजेंसी के लिए तैयार रहें

आपका फाइनेंशियल प्लान इमरजेंसी फंड एकत्रित करने में सहायक होना चाहिए जो कि मेडिकल इमरजेंसी की स्थिती, जैसे हॉस्पिटल में भर्ती होना, दुर्घटना आदि, से निपटने के लिए बेहद ज़रूरी है. यह इस बात का ध्यान रखता है कि ऐसी स्थिति में EMI के भुगतान के लिए, आपके द्वारा अलग से रखे गए फंड पर कोई असर न हो.

How to claim the subsidyअपनी EMI को सीमित रखें

अगर आपने कोई अन्य लोन लिया हुआ है, जैसे कार लोन, पर्सनल लोन आदि. होम लोन EMI कैलकुलेटर से कैलकुलेट की गई EMI आपकी अन्य EMI में भी जोड़ी जानी चाहिए, जिससे यह निर्धारित हो सके कि आपकी आय का कितना भाग लोन की रीपेमेंट में जारहा है. हमारा सुझाव है कि आप अपनी महीने की इनकम का अधिकतम 40% ही लोन की रीपेमेंट के रूप में दें.

आपका होम लोन रीपेमेंट आसान, तनाव मुक्त और सुविधाजनक बनाया जा सकता है, अगर आप अपने कैशफ्लो को सही ढंग से प्लान करें और उसका पालन करें.

अपने विचार साझा करें

इस जानकारी को निजी रखा जाएगा और सार्वजनिक रूप से नहीं दिखाया जाएगा.