भारत में एच डी एफ सी होम लोन प्राप्त करने की चरण-दर-चरण प्रक्रिया

एच डी एफ सी का होम लोन एप्लीकेशन प्रोसेस आसान और सुविधाजनक है. होम लोन एप्लीकेशन और डिस्बर्समेंट प्रोसेस के लिए चरण-दर-चरण जानकारी यहां दी गई है.

Step 1: Application of the Home Loan

आपको पहचान का प्रमाण, निवास का प्रमाण, इनकम का प्रमाण आदि जैसे महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट के साथ विधिवत रूप से भारी गई एप्लीकेशन को जमा करना होगा. अगर आप को-एप्लीकेंट के साथ अप्लाई कर रहे हैं, तो आपके को-एप्लीकेंट को भी इन डॉक्यूमेंट का सेट सबमिट करना होगा, और को-एप्लीकेंट को भी एप्लीकेशन फॉर्म पर हस्ताक्षर करना होगा.

अगर आपने पहले से ही किसी प्रॉपर्टी को शॉर्ट-लिस्ट किया है, तो आपको फॉर्म में विवरण प्रदान करना होगा और कानूनी और तकनीकी मूल्यांकन के लिए प्रॉपर्टी से संबंधित डॉक्यूमेंट की फोटोकॉपी सबमिट करनी होगी.

आप एच डी एफ सी होम लोन के लिए www.hdfc.com पर जाकर भी ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं. आप हमारे टोल-फ्री नंबर पर भी कॉल कर सकते हैं, इसके बाद हमारे काउंसलर आपके घर आएंगे और इस प्रोसेस में आपकी मदद करेंगे.

Step 2: Loan Approval

फॉर्म और डॉक्यूमेंट जमा करने के बाद, मूल्यांकन प्रक्रिया शुरू होती है. हम आपकी आय, देयताओं, क्रेडिट स्कोर आदि से संबंधित विशिष्ट जानकारी के आधार पर आपकी पात्रता का मूल्यांकन करते हैं.

अगर आप स्व-व्यवसायी हैं, तो इन जानकारियों के अलावा, हम आपके बिज़नेस की स्थिरता और कैश फ्लो की स्थिरता का भी आकलन करते हैं.

इस चरण में, हम फील्ड क्रेडिट इन्वेस्टिगेशन करते हैं, जिसमें हमारे प्रतिनिधि आपको कॉल करके या आपके घर/ऑफिस में जाकर, एप्लीकेशन फॉर्म में आपके द्वारा प्रदान की गई जानकारी को सत्यापित कर सकते हैं.

हमारे आकलन के आधार पर, हम आपकी लोन पात्रता को निर्धारित करते हैं.

Step 3: Legal & Technical Verification

आपको प्रॉपर्टी से संबंधित डॉक्यूमेंट की मान्य कॉपी सबमिट करनी होगी. इनमें टाइटल डॉक्यूमेंट (रीसेल प्रॉपर्टी के मामले में), बिल्डर के साथ सेल एग्रीमेंट, NOC (नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट), OC (ऑक्यूपेंसी सर्टिफिकेट) और अन्य डॉक्यूमेंट शामिल हैं, जिन्हें हमें सत्यापित करना पड़ सकता है. हम प्रॉपर्टी का तकनीकी रूप से भी निरीक्षण करेंगे, ताकि हम यह जान सकें कि क्या प्रॉपर्टी को सैंक्शन प्लान और अन्य लागू मानदंडों के अनुसार बनाया गया है या नहीं, और साथ ही हम उसकी मार्केट वैल्यू का भी आकलन करेंगे.

Step 4: Home Loan Sanction

आपकी लोन पात्रता निर्धारित करने और प्रॉपर्टी के कानूनी एवं तकनीकी पहलुओं को सत्यापित करने के बाद, हम आपको सैंक्शन लेटर के माध्यम से लोन राशि के बारे में सूचित करेंगे. सैंक्शन लेटर में निम्नलिखित विवरण शामिल होंगे:

  • कुल स्वीकृत लोन राशि.
  • होम लोन की ब्याज दरें
  • लागू ब्याज दर का प्रकार (फिक्स्ड या फ्लोटिंग ब्याज दर)
  • लोन की अवधि
  • देय EMI (जैसा लागू हो)
  • स्वीकृति पत्र की वैधता
  • डिस्बर्समेंट से पहले पूरी की जाने वाली विशेष शर्तें (अगर कोई हो)
  • अन्य नियम व शर्तें.

Step 5: Home Loan Disbursement

क्रेडिट, कानूनी और तकनीकी रूप से सत्यापन करने के बाद, आपको हमें ओरिजनल टाइटल डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे. जब आप हमें ये डॉक्यूमेंट सबमिट करेंगे और डिस्बर्समेंट का अनुरोध दर्ज करेंगे, तब हम आपका डिस्बर्समेंट चेक तैयार करने के लिए प्रोसेस शुरू करेंगे. लेंडर द्वारा डिस्बर्समेंट चेक देने से पहले, आपको लोन एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करना होगा. लोन एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करने से पहले ब्याज दर, ब्याज का प्रकार, लोन अवधि, EMI और अन्य नियम एवं शर्तों जैसे सभी आवश्यक विवरण को ध्यान से पढ़ें.

आप जिस प्रॉपर्टी को खरीदना चाहते हैं, यदि वह निर्माणाधीन है, तो हम निर्माण की प्रगति के आधार पर सैंक्शन राशि को किश्तों में डेवलपर को डिस्बर्स करेंगे.