प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) (शहरी)-सभी के लिए आवास, एक ऐसा मिशन है जिसे भारत सरकार द्वारा गृह स्वामित्व को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू किया गया था. इसका उद्देश्य 2022 तक 'सभी के लिए आवास' हासिल करना है. इस मिशन के तहत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) नामक एक स्कीम को लॉन्च किया गया था, जिसका उद्देश्य है घर की खरीद/ निर्माण/ विस्तार या सुधार के लिए कम ब्याज पर लोन प्रदान करना. शहरीकरण की अनुमानित वृद्धि और और इसके परिणामस्वरूप उत्पन्न होने वाले घरों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर PMAY स्कीम आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS)/कम आय वर्ग (LIG) और समाज के मध्यम आय वर्ग (MIG) की ओर केंद्रित की गई है.

क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) क्या है?

क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS), PMAY स्कीम में मिलने वाला एक लाभ है, जिससे आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग (EWS), कम आय वाले समूह (LIG) और मध्यम आय वाले समूह (MIG) ब्याज सब्सिडी की मदद से कम EMI पर होम लोन का लाभ उठा सकते हैं. ब्याज की छूट लाभार्थी को मूल राशि के साथ ही प्राप्त होती है, जिसके परिणामस्वरूप प्रभावी होम लोन की राशि और EMI में कमी आ जाती है.

PMAY के तहत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) होम लोन को किफायती बनाती है क्योंकि ब्याज पर दी गई सब्सिडी से कस्टमर की जेब पर होम लोन का भार कम हो जाता है. इस स्कीम के तहत सब्सिडी की राशि मुख्य रूप से कस्टमर की आय और उस प्रॉपर्टी के आकार पर निर्भर करती है, जिसके लिए फाइनेंसिंग ली जा रही है.

प्रधानमंत्री आवास योजना की विशेषताएं

  1. सरल डॉक्यूमेंटेशन प्रोसेस

    प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एच डी एफ सी से आसान और सुविधाजनक डॉक्यूमेंटेशन की प्रक्रिया के द्वारा होम लोन लें
  2. कस्टमाइज़्ड लोन रीपेमेंट विकल्प

    एच डी एफ सी होम लोन पर कस्टमाइज़्ड होम लोन रीपेमेंट के विकल्प प्रदान करता है

इनकम कैटेगरी के अनुसार PMAY CLSS लाभ

इनकम श्रेणी के अनुसार दिए जाने वाले लाभ इस प्रकार हैं:

PMAY के तहत CLSS EWS/LIG स्कीम:

LIG और EWS श्रेणी में वे लोग आते हैं, जिनकी वार्षिक घरेलू इनकम ₹3 लाख से अ​धिक लेकिन ₹6 लाख से कम है. आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) या निचले आय वर्ग (LIG) की श्रेणी के लाभार्थी अधिकतम 6.5% की ब्याज सब्सिडी के पात्र हैं, बशर्ते निर्मित या खरीदी गई प्रॉपर्टी का कारपेट क्षेत्र 60 वर्ग मीटर (लगभग 645.83 वर्ग फीट) से अधिक न हो. हालांकि यह ब्याज सब्सिडी अधिकतम ₹6 लाख तक की लोन राशि तक सीमित है.

इस योजना को 2017 में मध्यम आय वर्ग (MIG) को शामिल करने के लिए बढ़ाया गया था. यह स्कीम दो भाग-MIG 1 और MIG 2 में विभाजित है.

PMAY के तहत CLSS MIG 1 स्कीम:

MIG 1 श्रेणी में वे लोग आते हैं, जिनकी घरेलू इनकम ₹6 लाख से अ​धिक लेकिन ₹12 लाख से कम है. MIG- 1 श्रेणी के लाभार्थी अधिकतम 4% की ब्याज सब्सिडी के पात्र हैं, बशर्ते निर्मित या खरीदी गई प्रॉपर्टी का कारपेट क्षेत्र 160 वर्ग मीटर (लगभग 1,722.23 वर्ग फीट) से अधिक न हो. हालांकि यह सब्सिडी 9 वर्ष तक की अवधि के अधिकतम ₹20 लाख तक की राशि के होम लोन तक सीमित है.

PMAY के तहत CLSS MIG 2 स्कीम:

MIG 2 श्रेणी में वे लोग आते हैं, जिनकी घरेलू इनकम ₹12 लाख से अ​धिक लेकिन ₹18 लाख से कम है. MIG- 2 श्रेणी के लाभार्थी अधिकतम 3% की ब्याज सब्सिडी के पात्र हैं, बशर्ते निर्मित या खरीदी गई प्रॉपर्टी का कारपेट क्षेत्र 200 वर्ग मीटर से अधिक न हो यानी की (लगभग 2,152.78 वर्ग फीट). हालांकि यह सब्सिडी 12 वर्ष तक की अवधि के अधिकतम ₹20 लाख तक की राशि के होम लोन तक सीमित है.

प्रधान मंत्री आवास योजना के लिए पात्रता

  1. PMAY स्कीम के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी परिवार की वार्षिक आय ₹ 18 लाख तक होनी चाहिए
  2. लाभार्थी व उसके परिवार के किसी भी सदस्य के नाम पर भारत के किसी भी हिस्से में खुद का पक्का घर नहीं होना चाहिए
  3. लाभार्थी परिवार ने भारत सरकार से, पहले किसी भी आवास योजना के तहत केंद्रीय सहायता न ली हो या PMAY के तहत किसी भी योजना का कोई लाभ प्राप्त न किया हो.
  4. विवाहित जोड़े के मामले में अगर कोई एक या फिर संयुक्त रूप से दोनों लोन लेते हैं, तो भी कोई एक ही सब्सिडी का पात्र होगा

प्रधान मंत्री आवास योजना लाभार्थी

लाभार्थी परिवार में पति, पत्नी और अविवाहित बच्चे शामिल होंगे. (MIG श्रेणी में वैवाहिक स्थिति का विचार किए बिना, कमाई करने वाले वयस्क सदस्य को एक अलग परिवार माना जा सकता है)

प्रधान मंत्री आवास योजना कवरेज:

2011 की जनगणना के अनुसार वैधानिक व अधिसूचित कस्बों के साथ-साथ वैधानिक कस्बे के रूप में अधिसूचित नियोजन क्षेत्र.

PMAY स्कीम का विवरण: प्रमुख मानदंड

clss स्कीम का प्रकार EWS और LIG MIG 1 ** MIG 2 **
घरेलू इनकम (₹) ₹6,00,000 तक ₹6,00,001 से ₹12,00,000 तक ₹12,00,001 से ₹18,00,000 तक
अधिकतम कारपेट एरिया (sqm) 60 sqm 160 sqm 200 sqm
ब्याज सब्सिडी (%) 6.5% 4.00% 3.00%
सब्सिडी कैलकुलेट करने के लिए अधिकतम लोन राशि ₹6,00,000 ₹9,00,000 ₹12,00,000
लोन का उद्देश्य खरीद/स्व-निर्माण/विस्तार खरीद/स्व-निर्माण खरीद/स्व-निर्माण
स्कीम की वैधता 31/03/2022 31/03/2021 31/03/2021
अधिकतम सब्सिडी (₹) 2.67 लाख 2.35 लाख 2.30 लाख
महिला स्वामित्व हां * अनिवार्य नहीं अनिवार्य नहीं

PMAY स्कीम के दिशानिर्देश

* निर्माण/विस्तार के लिए महिला स्वामित्व अनिवार्य नहीं है

*दिनांक 15.03.2018 के संशोधन के अनुसार, कमाई करने वाले वयस्क सदस्य (वैवाहिक स्थिति के बावजूद) को एक अलग घर माना जा सकता है. यह भी बताया गया है कि एक वैवाहिक दंपत्ति के मामले में, पति-पत्नी या संयुक्त स्वामित्व में दोनों एक साथ एक ही घर के लिए पात्र होंगे, इस योजना के तहत पात्रता घर की आय के अधीन होगी.

**MIG - 1 व 2 के लिए लोन 1-1-2017 को/या उसके बाद अनुमोदित होना चाहिए

  1. MIG श्रेणी के लिए लाभार्थी परिवार का आधार नंबर अनिवार्य है.
  2. ब्याज पर छूट की सब्सिडी अधिकतम 20 साल या लोन की अवधि जो भी कम हो, तक के लिए मिलेगी.
  3. एच डी एफ सी के माध्यम से लाभार्थियों के लोन अकाउंट में ब्याज सब्सिडी को अग्रिम रूप से जमा किया जाएगा ताकि निवल हाउसिंग लोन और मासिक किस्त (EMI) घट सके.
  4. ब्याज सब्सिडी Net Present Value (NPV) की गणना 9% की छूट दर पर की जाएगी.
  5. अगर लोन तय सीमा से अधिक होता है, तो उस पर कोई ब्याज दर की सब्सिडी नहीं मिलेगी
  6. लोन राशि या प्रॉपर्टी की कीमत की कोई अधिकतम सीमा नहीं है.

*स्कीम के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया www.pmay-urban.gov.in देखें

ध्यान दें- CLSS के तहत मिलने वाले लाभ के लिए आप योग्य हैं या नहीं, इसके आकलन का पूर्ण अधिकार भारत सरकार के पास है. सब्सिडी स्कीम के मौजूदा मानदंड ऊपर उल्लिखित हैं.

 

प्रधानमंत्री आवास योजना सब्सिडी कैलकुलेटर

₹.
10,000 1 करोड़
1 360

सब्सिडी कैटेगरी : EWS/LIG

आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग/निम्न आय वर्ग

स्कीम और पात्रता के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया स्कीम के दिशानिर्देश देखें.

PMAY के तहत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) का लाभ कौन ले सकता है?(CLSS)?

भारत के किसी भी हिस्से में मकान नहीं रखने वाला लाभार्थी परिवार, परिवार के लिए परिभाषित इनकम मानदंड के अनुसार इस सब्सिडी का पात्र है.

PMAY लाभार्थी परिवार की परिभाषा क्या है?

लाभार्थी परिवार में पति, पत्नी और अविवाहित बच्चे शामिल होंगे. (MIG श्रेणी में वैवाहिक स्थिति का विचार किए बिना, कमाई करने वाले वयस्क सदस्य को एक अलग परिवार माना जा सकता है)

PMAY के तहत ESW, LIG और MIG कैटेगरी के लिए क्या मानदंड हैं?

कृपया ऊपर दिए गए स्कीम विवरण को देखें.

क्या PMAY सब्सिडी ग्रामीण क्षेत्रों की प्रॉपर्टी पर लागू होती है?

नहीं.

क्या PMAY सब्सिडी प्राप्त करने के लिए महिला-स्वामी का होना अनिवार्य है?

EWS और LIG के लिए महिला स्वामित्व या सह-स्वामित्व अनिवार्य है. लेकिन स्व-निर्माण/विस्तार या MIG श्रेणी के लिए यह नियम अनिवार्य नहीं है.

PMAY ब्याज सब्सिडी के लिए क्लेम करने का प्रोसेस क्या है?

लोन डिस्बर्स होने के बाद एच डी एफ सी की ओर से आवश्यक जानकारियां राष्ट्रीय आवास बैंक (NHB) को भेजी जाती हैं, ताकि उपलब्ध कराई गई जानकारी की वैधता जांची जा सके. आवश्यक औपचारिक सावधानी के बाद NHB पात्र बॉरोअर को सब्सिडी की मंजूरी दे देता है.

अपना PMAY सब्सिडी स्टेटस कैसे चेक किया जा सकता है?

  1. अपनी PMAY सब्सिडी की स्थिति ट्रैक करने के लिए, कृपया www.pmayuclap.gov.in पर जाएं
  2. कृपया इस वेबसाइट पर अपनी क्लेम एप्लीकेशन ID दर्ज करें और 'स्टेटस पाएं' बटन पर क्लिक करें.
  3. होम लोन प्रदाता के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP कोड भेजा जाएगा. कृपया आवश्यक क्षेत्र में OTP दर्ज करें.
  4. आप पेज के 'CLSS ट्रैकर' सेक्शन में क्लेम की स्थिति देख सकेंगे.

मुझे PMAY के तहत ब्याज सब्सिडी का लाभ कैसे मिलेगा?

  1. लोन डिस्बर्स होने के बाद, एच डी एफ सी, राष्ट्रीय आवास बैंक (NHB) से पात्र बॉरोअर के लिए सब्सिडी क्लेम कर सकता है.
  2. पात्र बॉरोअर की सब्सिडी राशि पास होने के बाद NHB उसे एच डी एफ सी को ट्रांसफर करेगा.
  3. सब्सिडी की गणना 9% की छूट दर पर NPV (शुद्ध वर्तमान मूल्य) पद्धति पर की जाएगी.
  4. NHB से मिलने वाली सब्सिडी आपके होम लोन अकाउंट में जमा कर दी जाएगी और उसी अनुपात में आपकी EMI कम हो जाएगी.

अगर PMAY सब्सिडी तो मिल जाती है, लेकिन कुछ कारणों से घर का निर्माण रुक जाता है, तो ऐसी परिस्थिति में क्या होगा?

ऐसे मामलों में, सब्सिडी की वसूली और वापसी केंद्र सरकार को करनी होगी.

क्या लाभार्थी परिवार को PMAY CLSS स्कीम के तहत 20 वर्ष से अधिक का लोन प्राप्त हो सकता है?

हां, एचडीएफसी क्रेडिट मानदंडों के अनुसार लाभार्थी 20 वर्षों से अधिक लंबी अवधि का लाभ उठा सकते हैं लेकिन सब्सिडी अधिकतम 20 वर्ष की अवधि तक सीमित रह जाएगी.

क्या लोन की राशि या प्रॉपर्टी की कीमत की कोई सीमा है?

नहीं, लेकिन सब्सिडी प्रत्येक कैटेगरी के लिए निर्धारित लोन राशि तक सीमित होगी और अतिरिक्त राशि पर सब्सिडी रहित ब्याज दर लागू होगी

अगर मैं अपना होम लोन दूसरे लेंडर को ट्रांसफर करूं, तो ब्याज सब्सिडी कैसे काम करेगी?

अगर किसी लेंडर ने हाउसिंग लोन लिया है और इस स्कीम के तहत ब्याज सब्सिडी का लाभ उठाया है, लेकिन बाद में बैलेंस ट्रांसफर करने के लिए किसी दूसरे लेंडिंग संस्थान में स्विच करता है, तो ऐसे लाभार्थी इस स्कीम के लाभ को फिर से क्लेम करने के लिए पात्र नहीं होंगे.

मुझे क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) के लिए कहां अप्लाई करना चाहिए?

आप किसी भी एच डी एफ सी ब्रांच में CLSS के अंतर्गत हाउसिंग लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

PMAY सब्सिडी प्राप्त करने के लिए क्या मुझे अतिरिक्त डॉक्यूमेंट देने होंगे?

नहीं, आपको सिर्फ यह शपथ पत्र देना है कि आपके पास कोई पक्का मकान नहीं है. इसके अलावा आपको कोई डॉक्यूमेंट नहीं देना और यह फॉर्म आपको एच डी एफ सी ऑफिस में मिल जाएगा.

क्या NRI को PMAY सब्सिडी मिल सकती है?

हां.